नीरज चोपड़ा के सम्मान में 7 अगस्त को “भाला फेंक दिवस” के रूप में नामित किया जाएगा

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ ने फैसला किया है कि ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा के सम्मान में हर साल 7 अगस्त को भाला फेंक दिवस होगा। 23 वर्षीय नीरज अभिनव बिंद्रा के बाद भारत के दूसरे व्यक्तिगत ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता हैं। नीरज ने 7 अगस्त 2021 को 2020 टोक्यो ओलंपिक में पुरुषों की भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीता।
नीरज ने टोक्यो के ओलंपिक स्टेडियम में इतिहास रचा है जब उन्होंने ओलंपिक में एथलेटिक्स में भारत के पदक के सूखे को समाप्त करने के लिए भाला फेंककर 87.58 मीटर की दूरी तय की थी। यह ओलंपिक के इतिहास में एथलेटिक्स में भारत का पहला स्वर्ण पदक है। 7 अगस्त को भाला फेंक दिवस के रूप में नामित करने के लिए एएफआई की बोली खेल के प्रति अधिक युवाओं को आकर्षित करने का एक प्रयास है।

मैराथनः वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर किपचोगे का लगातार दूसरा गोल्ड

मैराथन के वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर इलियुड किपचोगे ने लगातार दूसरा गोल्ड जीता। केन्या के 36 साल के किपचोगे ने दौड़ 2 घंटे 08.38 सेकंड में पूरी की। नीदरलैंड के आब्दी नगेये ने 2 घंटे 09.58 सेकंड के साथ सिल्वर जबकि बेल्जियम के बशीर आब्दी ने 2 घंटे 10.00 सेकंड के साथ ब्रॉन्ज जीता। केन्या ने 64 साल में मैराथन में आठवां मेडल जीता।

काकोरी ट्रेन षडयंत्र का नाम बदलकर काकोरी ट्रेन कार्यवाही किया

उत्तर प्रदेश सरकार ने “काकोरी ट्रेन षड्यंत्र” नामक एक ऐतिहासिक स्वतंत्रता आंदोलन का नाम बदलकर “काकोरी ट्रेन एक्शन” कर दिया है और उत्तर प्रदेश के काकोरी में एक ट्रेन को लूटने के लिए फांसी पर लटकाए गए क्रांतिकारियों को श्रद्धांजलि दी। यह एक ट्रेन डकैती थी जो 9 अगस्त, 1925 को लखनऊ के पास काकोरी नामक गाँव में ब्रिटिश राज के खिलाफ भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान हुई थी। इस डकैती का आयोजन हिंदुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन (HRA) द्वारा किया गया था। इसकी योजना राम प्रसाद बिस्मिल और अशफाकउल्लाह खान ने बनाई थी। स्वतंत्रता प्राप्त करने के उद्देश्य से ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ क्रांतिकारी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए HRA की स्थापना की गई थी।
बिस्मिल और उनकी पार्टी के क्रांतिकारियों को HRAके लिए हथियार खरीदने के लिए पैसे की आवश्यकता थी। इसलिए, उन्होंने उत्तर रेलवे लाइन पर एक ट्रेन को लूटने का फैसला किया। लूट की योजना राम प्रसाद बिस्मिल, अशफाकउल्ला खां, राजेंद्र लाहिड़ी, केशव चक्रवर्ती, मुकुंदी लाल, बनवारी लाल आदि ने अंजाम दी थी।

विश्व शेर : दिवस 2021

एशिया में सबसे ज्यादा शेर भारत में पाए जाते हैं। एशियाई शेर भारत में पाई जाने वाली सबसे बड़ी प्रजाति है। इसके अतिरिक्त अन्य चार रॉयल बंगाल टाइगर, इंडियन लेपर्ड, क्लाउडेड लेपर्ड और स्नो लेपर्ड हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस खास दिन की सभी देशवासियों को बधाई दी है।
एक शेर का वजन 190 किलो तक और शेरनी का वजन 130 किलो तक होता है। जहां पर शेर होता है, वहां से आठ किलोमीटर की दूरी तक आप शेर की दहाड़ सुन सकते हैं। एक शेर की उम्र लगभग 16 से 20 साल की होती है। शेर के पसंदीदा शिकारों में हिरण, नीलगाय जैसे पशु आते हैं।

अनुराधा रॉय द्वारा लिखित पुस्तक का शीर्षक “द अर्थस्पिनर”

“द अर्थस्पिनर” नामक पुस्तक पुरस्कार विजेता उपन्यासकार अनुराधा रॉय द्वारा लिखी गई है। पुस्तक में, रॉय ने “एलंगो कुम्हार के जीवन और मस्तिष्क, जिसे एक प्यारे पालतू जानवर के समर्पण, जटिल और असंभव प्रेम, रचनात्मकता के लिए अपने जुनून और छोटी-छोटी हिंसा से उलट-पलट हुई दुनिया, जो आज के समय की विशेषता है,” पर ध्यान केंद्रित करती है।
यह उपन्यास दो लोगों के बारे में है जो एक खुशहाल दुनिया बनाने के लिए खुद को इस तरह की बेड़ियों से मुक्त करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। रॉय के पहले के कार्यों में “एन एटलस ऑफ इम्पॉसिबल लॉन्गिंग” और “द फोल्डेड अर्थ” शामिल हैं।

मेहंदीपुर बालाजी के महंत किशोरपुरी महाराज का निधन

प्रसिद्ध धर्मस्थल मेहंदीपुर बालाजी के महंत किशोरपुरी महाराज (87) का 9 August दाेपहर 12:30 बजे जयपुर स्थित आवास पर निधन हाे गया। महाराज लंबे समय से चेस्ट इन्फेक्शन से पीड़ित थे। एक सप्ताह से उनका जयपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। रविवार शाम पार्थिव देह मेहंदीपुर बालाजी ले जाकर अंतिम दर्शन के लिए रखी गई। सोमवार सुबह 10 बजे उनके गुरु महंत गणेशपुरी के समाधिस्थल पर ही उन्हें भी समाधि दी जाएगी। किशोरपुरी बीते 55 साल से महंत की गद्दी पर विराजमान थे।

127वां संविधान संशोधन विधेयक लोकसभा में पेश किया गया

केंद्र सरकार ने 9 अगस्त, 2021 को लोकसभा में 127वां संविधान (संशोधन) विधेयक, 2021 पेश किया। यह विधेयक राज्य की अपनी ओबीसी सूची बनाने की शक्ति को बहाल करने का प्रयास करता है। मई 2021 के मराठा आरक्षण के अपने फैसले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा 102वें संवैधानिक संशोधन अधिनियम को बरकरार रखने के बाद नवीनतम संशोधन की आवश्यकता पैदा हुई। सर्वोच्च न्यायालय ने यह भी कहा कि, राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग (NCBC) की सिफारिशों पर, राष्ट्रपति यह निर्धारित करेंगे कि राज्य OBC सूची में किन समुदायों को शामिल किया जाएगा। 127वां संविधान संशोधन विधेयक अनुच्छेद 342A के खंड 1 और 2 में संशोधन करेगा। यह एक नया खंड 3 पेश करेगा। यह अनुच्छेद 366 (26c) और 338B में भी संशोधन करेगा।

आईसीसी पिछले कुछ समय से क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करने की कोशिश

आईसीसी पिछले कुछ समय से क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करने की कोशिश कर रहा है। उसके इस दावे को बीसीसीआई का भी समर्थन हासिल है। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने हाल में इस पर अपनी राय स्पष्ट की थी। आईसीसी ने ओलंपिक कार्य समूह भी गठित किया है जो कि क्रिकेट को 2028 से ओलंपिक खेलों का हिस्सा बनाने की दिशा में काम करेगा। क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल किया जाए इस पर लंबे अरसे से मांग उठ रही है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) इस मुद्दे पर पहले ही अपना रुख साफ कर चुका है। बीसीसीआई ने कहा है कि अगर क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल किया जाता है तो भारत इसमें भाग लेगा।

भारत उन्नत भू-इमेजिंग उपग्रह “जीसैट -1” लॉन्च करेगा

भारत आखिरकार अपना सबसे उन्नत भू-इमेजिंग उपग्रह लॉन्च करेगा, जो दिन में 4-5 बार देश की इमेजिंग करके पाकिस्तान और चीन के साथ अपनी सीमाओं सहित उपमहाद्वीप की बेहतर निगरानी की अनुमति देगा। उपग्रह को 12 अगस्त को श्रीहरीकोटा से प्रक्षेपित किया जाएगा। इसरो का GSLV-F10 रॉकेट आखिरकार 2,268 किलोग्राम वजनी Gisat-1, कोडनेम EOS-3 को जियो-ऑर्बिट में डाल देगा। यह इस साल भारत का प्राथमिक उपग्रह का पहला प्रक्षेपण होगा। एक बार अंतरिक्ष युद्धाभ्यास के बाद भूस्थिर कक्षा में पृथ्वी से 36, 000 किमी ऊपर स्थापित होने के बाद, उन्नत ‘आकाश में आंख’ लगातार रुचि के क्षेत्रों की निगरानी कर सकती है

10 अगस्त : विश्व जैव ईंधन दिवस

पारंपरिक जीवाश्म ईंधन के विकल्प के रूप में गैर-जीवाश्म ईंधन के महत्व के बारे में जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से हर साल 10 अगस्त को विश्व जैव ईंधन दिवस (World Biofuel Day) के रूप में मनाया जाता है। यह 2015 से केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा मनाया जा रहा है।
भारत में महत्वपूर्ण जैव ईंधन श्रेणियां
बायो-एथेनॉल :चीनी युक्त सामग्री, स्टार्च युक्त सामग्री और सेल्यूलोसिक सामग्री बायोमास से उत्पादित इथेनॉल।
बायो-डीजल : गैर-खाद्य वनस्पति तेलों, एसिड तेल, प्रयुक्त खाना पकाने के तेल/पशु वसा और जैव-तेल से उत्पादित फैटी एसिड का मिथाइल या एथिल एस्टर।
बायो-सीएनजी : यह बायो-गैस का शुद्ध रूप है जिसकी ऊर्जा क्षमता और संरचना जीवाश्म आधारित प्राकृतिक गैस के समान है।

ONE LINER QUESTION ANSWER

राजस्थान की कला एवं संस्कृति

राजस्थान का सामान्य ज्ञान

Latest Govt Job

राजस्थान का भूगोल

SUBJECT QUIZ

Current Affairs