जिम्बाब्वे के ब्रेंडन टेलर ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की

जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज ब्रेंडन टेलर ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। उन्होंने 13 सितंबर, 2021 को आयरलैंड के खिलाफ तीसरा अंतिम एकदिवसीय मैच खेलते हुए यह घोषणा की। 34 वर्षीय बल्लेबाज ने 2004 में श्रीलंका के खिलाफ जिम्बाब्वे के लिए अपना वनडे डेब्यू किया था। उन्होंने अपने 17 साल के वनडे करियर में 204 वनडे मैचों में 6677 रन बनाए हैं।

IIT-बॉम्बे ने लॉन्च किया ‘प्रोजेक्ट उड़ान’

IIT- बॉम्बे ने 14 सितंबर, 2021 को हिंदी दिवस (Hindi Diwas) के अवसर पर अपना “प्रोजेक्ट उड़ान” (Project Udaan) लॉन्च किया।
परियोजना का उद्देश्य
‘प्रोजेक्ट उड़ान’ को उच्च शिक्षा के संस्थानों में शामिल होने के दौरान कई छात्रों द्वारा सामना की जाने वाली भाषा की बाधा को तोड़ने के उद्देश्य से शुरू किया गया है। ‘प्रोजेक्ट उड़ान’ अंग्रेजी से हिंदी और अन्य भारतीय भाषाओं में इंजीनियरिंग और अन्य धाराओं की पाठ्यपुस्तकों और अन्य अध्ययन सामग्री के अनुवाद को सक्षम बनाता है। इस परियोजना की परिकल्पना IIT बॉम्बे में कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर गणेश रामकृष्णन ने की थी। यह एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-आधारित अनुवाद पारिस्थितिकी तंत्र है।

Engineers Day : 15 सितंबर 2021

इंजीनियर्स डे को मनाने का खास मकसद ये है कि दुनियाभर के इंजीनियरों को प्रोत्साहन मिले और देश-दुनिया को तकनीक की मदद से और आगे ले जाने में मदद दे सकें. ये दिन देश के इंजीनियरों के प्रति सम्मान और उनके कार्य की सराहना के लिए मनाया जाता है।
विश्वेश्वरैया ने एक इंजीनियर के रूप में देश में कई बांध को निर्माण करवाया है। इनमें मैसूर में कृष्णराज सागर बांध, ग्वालियर में तिगरा बांध और पुणे के खड़कवासला जलाशय में बांध आदि काफी खास हैं। इसके अतिरिक्त हैदराबाद सिटी को बनाने का श्रेय भी डॉ. विश्वेश्वरैया को ही जाता है।

कॉलेज श्रेणी की रैंकिंग में मिला 81वां स्थान

भारतीय शिक्षा संस्थानों के लिए जारी रैंकिंग में सुबोध शिक्षा समिति की ओर से संचालित एस.एस. जैन सुबोध स्नातकोत्तर महाविद्यालय, रामबाग सर्किल जयपुर ने 81वां स्थान प्राप्त किया है वहीं राजस्थान में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। राजस्थान में टॉप-100 में कॉलेज श्रेणी में आने वाला एक मात्र महाविद्यालय सुबोध महाविद्यालय है। यह रैंकिंग टीचिंग लर्निंग रिसोर्सेस, रिसर्च एण्ड प्रोफेशनल प्रैक्टिस, आउटरीच, ग्रेजुएशन आउट कम, आउटरीच एंड इन्क्लूसिव सहित कई पैरामीटर्स के आधार पर तैयार की जाती है।

15 सितंबर :अंतर्राष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस

अंतर्राष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस हर साल 15 सितंबर को विश्व स्तर पर मनाया जाता है। यह लोकतंत्र के सिद्धांतों को बढ़ावा देने और बनाए रखने और दुनिया में लोकतंत्र की स्थिति की समीक्षा करने का अवसर प्रदान करने के लिए 2007 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा पारित एक प्रस्ताव के माध्यम से स्थापित किया गया था। 2021 के अंतर्राष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस का विषय “भविष्य के संकटों का सामना करने में लोकतांत्रिक लचीलापन को मजबूत करना” है।
दिन का इतिहास:
संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 2007 में एक प्रस्ताव के माध्यम से लोकतंत्र को बढ़ावा देने और मजबूत करने के लिए समर्पित राष्ट्रीय कार्यक्रमों को मजबूत करने के लिए इस दिवस की घोषणा की गई थी। यह दिन पहली बार 2008 में मनाया गया था। लोकतंत्र एक लक्ष्य के रूप में एक प्रक्रिया है, और केवल अंतर्राष्ट्रीय समुदाय, राष्ट्रीय शासी निकायों, नागरिक समाज और व्यक्तियों की पूर्ण भागीदारी और समर्थन से ही लोकतंत्र का आदर्श बन सकता है। हर जगह, हर किसी के द्वारा आनंदित होने के लिए एक वास्तविकता में बनाया गया।

मद्रास उच्च न्यायालय ने 120 किमी प्रति घंटे की गति सीमा तय करने की अधिसूचना को रद्द किया

मद्रास उच्च न्यायालय ने केंद्र सरकार की 2018 की अधिसूचना को रद्द कर दिया है जिसमें राजमार्गों और एक्सप्रेसवे पर 120 किमी / घंटा की गति तय की गई थी। हाई कोर्ट का यह आदेश एक अपील पर दिया। यह अपील एक अपीलकर्ता के. शैला को दिए गए मुआवजे को बढ़ाने की मांग कर रही थी। केंद्र सरकार की अधिसूचना में, एक्सप्रेसवे पर 120 किमी/घंटा, राष्ट्रीय राजमार्गों पर 100 किमी/घंटा, जबकि एम 1 श्रेणी के वाहनों के लिए गति सीमा 60 किमी/घंटा निर्धारित की गई थी। जस्टिस एन. किरुबाकरण और टी.वी. तमिलसेल्वी ने कहा कि, अधिक गति मृत्यु का मुख्य कारण है और अधिकांश दुर्घटनाओं के लिए जिम्मेदार है। इस तथ्य को जानने के बावजूद, सरकार ने वाणिज्यिक कारणों सहित विभिन्न कारणों से गति सीमा बढ़ा दी है। इससे अधिक मौतें हो रही हैं। इसका हवाला देते हुए यहअधिसूचना रद्द कर दी गई।

श्रीलंका के दिग्गज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से लिया संन्यास

मलिंगा टेस्ट और वन-डे से पहले ही संन्यास ले चुके थे। मलिंगा को आईसीसी टी20 विश्व कप के लिए श्रीलंका की टीम में जगह नहीं मिली थी। मलिंगा ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो में कहा कि पिछले 17 वर्षों में मैंने जो अनुभव हासिल किया है, उसकी अब मैदान में जरूरत नहीं होगी क्योंकि मैंने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने के लिए टी20 क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है। श्रीलंका ने इस साल यूएई और ओमान में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए जो अपनी 15 सदस्यीय टीम चुनी, उसमें भी मलिंगा को शामिल नहीं किया गया है। श्रीलंका के चयनकर्ताओं ने इस बार दसुन शनाका को टीम का कप्तान बनाया है। मलिंगा ने 83 अंतरराष्ट्रीय टी20 में 107 विकेट झटके हैं। 6 रन देकर 5 विकेट उनका बेस्ट रहा है।

दुनिया के सबसे बड़े मालवाहक जहाज की यात्रा शुरू

दुनिया का सबसे बड़ा मालवाहक जहाज एवर एस अपनी पहली यात्रा पर है। 400 मीटर लंबे और 61.5 मीटर चौड़े इस जहाज की क्षमता 24 हजार कंटेनर की है। यह एवर गिवन कंपनी का शिप का है, जिसके जहाज ने मार्च में 6 दिन के लिए स्वेज नहर ब्लॉक कर दी थी। ये जहाज अभी ब्रिटेन की सफक काउंटी में है। अब यह स्वेज नहर से होते हुए नीदरलैंड के रॉटरडैम जाएगा है।

भानुमति घीवला को मिलेगा राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार 2021

फ्लोरेंस नाइटिंगेल अवार्ड गुजरात के सर सयाजीराव जनरल हॉस्पिटल की नर्स भानुमति घीवला को दिया जाएगा। वह COVID-19 पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी के साथ-साथ शिशु देखभाल की प्रभारी रही हैं। उन्होंने स्त्री रोग विभाग के साथ-साथ बाल रोग वार्ड में भी काम किया। 2019 में जब अस्पताल के वार्डों में बाढ़ की वजह से पानी भर गया था उन्होंने स्त्री रोग विभाग और बाल रोग वार्ड में अपनी ड्यूटी निभाई।

केंद्र के ई-पोर्टल के साथ भूमि अभिलेख को एकीकृत किया गया

केंद्र सरकार के अनुसार, तीन को छोड़कर अधिकांश राज्यों द्वारा भूमि अभिलेखों को केंद्र सरकार के ई-पोर्टल के साथ एकीकृत किया गया है। सरकार ने आगे कहा कि खरीफ विपणन सीजन 2021-22 में खरीद नए तंत्र के अनुसार की जाएगी। तीन राज्य जिन्होंने अपने डिजिटल भूमि रिकॉर्ड को नोडल खरीद एजेंसी, भारतीय खाद्य निगम (FCI) के साथ एकीकृत नहीं किया है, उनमें शामिल हैं- असम, उत्तराखंड और जम्मू और कश्मीर। खरीद से पहले भूमि रिकॉर्ड की क्रॉस-चेकिंग से यह सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी कि MSP किसानों तक पहुंचे न कि व्यापारियों तक। किसानों द्वारा अपनी जमीन या किराए की संपत्ति में उगाई जाने वाली फसल सरकार द्वारा खरीदी जाएगी। पोर्टल पर पंजीकरण के लिए किसानों को भूमि अभिलेखों के भौतिक प्रमाण देने की आवश्यकता नहीं होगी।
योजना का उद्देश्य
यह तंत्र यह पता लगाने के उद्देश्य से शुरू किया गया था कि किसी विशेष क्षेत्र में कितनी फसल की खेती की गई है और सरकार वास्तविक किसानों से कितनी खरीद करती है न कि व्यापारियों से।

ONE LINER QUESTION ANSWER

राजस्थान की कला एवं संस्कृति

राजस्थान का सामान्य ज्ञान

Latest Govt Job

राजस्थान का भूगोल

SUBJECT QUIZ

Current Affairs

Please follow and like us:
error20
fb-share-icon22068
Tweet 17k
fb-share-icon20

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Wordpress Social Share Plugin powered by Ultimatelysocial
error: Content is protected !!