मात्रक/इकाई

  • शक्ति का मात्रक है – वॉट
  • बल का मात्रक है – न्यूटन
  • कार्य का मात्रक है – जूल
  • चालक की वैद्युत प्रतिरोधकता की इकाई है – ओम मीटर
  • ‘प्रकाशवर्ष’ इकाई है – वह दूरी, जो प्रकाश एक वर्ष में तय करता है
  • एक पारसेक, जो तारों संबंधी दूरियां मापने का मात्रक, बराबर है – 3.25 प्रकाशवर्ष के
  • पारसेक (PARSEC) मात्रक है – दूरी का
  • माप की वह इकाई, जिसे 0.39 से गुणा करने पर ‘इंच’ प्राप्त होता है – सेंटीमीटर
  • छ: फीट लंबे व्यक्ति की ऊंचाई नैनोमीटर में व्यक्त की जाएगी -183×107 नैनोमीटर से
  • एक नैनोमीटर होता है -107सेमी.
  • ‘एम्पियर की इकाई है – विद्युत धारा मापने की
  • मेगावॉट बिजली के नापने की इकाई है, जो – उत्पादित की जाती है

सुमेलित है

भौतिक राशियां – इकाई
त्वरण – मीटर/सेकंड
बल – न्यूटन
कृत कार्य – जूल
आवेग – न्यूटन-सेकंड
द्रव्यमान – किग्रा.
पास्कल – दाब

  • एक हॉर्स पावर में होते हैं – 746 वॉट
  • सही सुमेलित है
    इकाई – प्राचल
    वॉट – शक्ति
    नॉट – जहाज की गति
    नॉटिकल मील – नौसंचालन में प्रयुक्त दूरी की इकाई
    कैलोरी – ऊष्मा
  • सही सुमेलित है
    जूल – कार्य
    एम्पियर – धारा
    वॉट – सामर्थ्य
    वोल्ट – विभवांतर
  • सुमेलित है
    उच्च वेग – मैक (Mach)
    तरंगदैर्ध्य – एंग्स्ट्रॉम
    ऊर्जा – जूल
  • ‘जूल’ ऊर्जा से उसी तरह संबंधित है जैसे ‘पास्कल’ संबंधित है – दबाव से
  • एक माइक्रॉन बराबर है -1/1000 मिलीमीटर के
  • एक माइक्रॉन प्रदर्शित करता है –10-4 सेमी. की लंबाई
    सुमेलित है
    डेसीबल – ध्वनि की प्रबलता की इकाई
    अश्व शक्ति – शक्ति की इकाई
    सेल्सियस – ताप मापन की इकाई
  • कैलोरी, किलो कैलोरी, किलो जूल तथा वॉट में से ऊष्मा की इकाई नहीं है -वॉट
  • 1 किमी. दूरी का तात्पर्य है – 1000 मी.से
  • एक पिकोग्राम बराबर होता है –10-12 ग्राम के
  • पारिस्थितिक दबाव (Atmospheric Pressure) की इकाई है – बार (Bar)
  • 1 किग्रा./(सेमी)2– दाब समतुल्य है – 1.0 बार के
  • तेल का एक ‘बैरेल’ होता है – लगभग 159 लीटर
  • लंबाई की न्यूनतम इकाई है – फर्मीमीटर
  • सुमेलित है
  • क्यूसेक – प्रवाह की दर
  • बाइट – कंप्यूटर
  • रिक्टर – भूकंप की तीव्रता
  • बार – दाब
  • क्यूसेक में मापा जाता है। – जल का बहाव
  • नॉट, डॉब्सन, प्वॉज तथा मैक्सवेल में से वायुमंडल के ओजोन परत की मोटाई नापने वाली इकाई है – डॉन्सन

मापक यंत्र एवं पैमाने

  • महासागर में डूबी हुई वस्तुओं की स्थिति जानने के लिए प्रयोग किया जाता है – सोनार का
  • सोनार प्रयोग में लाया जाता है – नौसंचालकों द्वारा
  • सोनार (SONAR) में हम उपयोग करते हैं – पराश्रव्य तरंगों का
  • ध्वनि की तीव्रता को मापने वाला यंत्र है – ऑडियोमीटर
  • एनीमोमीटर से मापन किया जाता है – पवन वेग का
  • बैरोमीटर, एनीमोमीटर, हाइड्रोमीटर तथा विण्डवेन में से वायु की गति नापी जाती है – एनीमोमीटर द्वारा
  • सुमेलित है

एमीटर – विद्युत धारा

टैकियोमीटर – क्षैतिज दूरियों, लंबवत उन्नयनों एवं दिशाओं का मापन

  • पाइरोमीटर प्रयोग किया जाता है – उच्च ताप के मापन में
  • ताप विद्युत-तापमापी, विकिरण तापमापी, गैस – तापमापी तथा द्रव-तापमापी में से पाइरोमीटर कहा जाता है – विकिरण-तापमापी को
  • वह थर्मामीटर, जो 2000°C मापने हेतु उपयुक्त हो, वह है – पूर्ण विकिरण पाइरोमीटर
  • पाइरहिलियोमीटर का प्रयोग किया जाता है – सोलर रेडिएशन को नापने के लिए
  • मैनोमीटर के द्वारा की जाती है – गैसों के दाब की माप
  • सुमेलित है
  • उपकरण/यंत्र – मापन की राशि
  • हाइग्रोमीटर – सापेक्ष आर्द्रता
  • स्प्रिंग तुला – भार
  • सुमेलित है
  • ओडोमीटर – वाहनों के पहियों द्वारा तय की गई दूरी मापने का यंत्र
  • ओन्डोमीटर _ विद्युत-चुंबकीय तरंगों की आवृत्ति मापने का यंत्र
  • ऑडियोमीटर – ध्वनि-तीव्रता मापक युक्ति
  • वायुमंडलीय दाब को मापने में उपयोग किया जाता है – बैरोमीटर का
  • साधारणतः बैरोमीटर में प्रयोग होता है – पारे का
  • दूध का आपेक्षिक घनत्व ज्ञात किया जा सकता है – लैक्टोमीटर से
  • थर्मोरेसिस्टर एक उपकरण है, जो कार्य करता है – इलेक्ट्रॉनिक थर्मामीटर की भांति
  • सही सुमेलित है-
  • स्टेथोस्कोप – हृदय की ध्वनि सुनने के लिए
  • स्फिग्नोमैनोमीटर – रक्त चाप मापने के लिए
  • कैरेटोमीटर – सोने की शुद्धता पता लगाने के लिए
  • लक्समीटर – प्रकाश की तीव्रता मापने के लिए
  • रक्त दाब नापने के यंत्र का नाम है – स्फिर्ना मैनोमीटर
  • राडार उपयोग में आता है – रेडियो तरंगों द्वारा वस्तुओं की स्थिति ज्ञात करने में
  • सुमेलित है-
  • मैनोमीटर – दाब
  • काब्युरेटर – आंतरिक दहन इंजन
  • कार्डियोग्राम – हृदय गति
  • सीस्मोमीटर – भूकंप तरंगों की तीव्रता
  • फोनोमीटर का उपयोग किया जाता है – ध्वनि की तीव्रता एवं स्पंदन आवृत्ति के मापन में
  • झूठ का पता लगाने वाला यंत्र है – पोलीग्राफ
  • हिमनदी की चाल, जनसंख्या वृद्धि, भूकंप की तीव्रता तथा पृथ्वी के अंदर का तापमान में से रिक्टर पैमाने पर मापी जाती है – भूकंप की तीव्रता
  • रिक्टर पैमाना मापने के लिए प्रयोग होता है – भूकंपीय लहरों का आयाम
  • सुमेलित है
  • सेल्सियस – ताप
  • किलोवॉट आवर – विद्युत
  • आर एच गुणक – रक्त
  • रिक्टर पैमाना – भूकंप
  • भूकंपमापी यंत्र है – सीस्मोग्राफ
  • ‘सीस्मोग्राफ रिकॉर्ड करता है – भूचाल
  • सुमेलित है
  • भूकंप _ सीस्मोग्राफ
  • ऊंचाई – अल्टीमीटर

This Post Has One Comment

  1. Dinesh Pooniya

    Nice ,स्टेथोस्कोप से केवल हार्ट साउंड ही नही सुन सकते , बॉडी के other साउंड भी सुनने के काम आता है , फ़ॉर example lung साउंड, बाउल साउंड ।

Leave a Reply