Linked list एक non-primitive, linear डेटा स्ट्रक्चर है। linked list, नोड्स के समूह से मिलकर बना होता है। प्रत्येक node के दो भाग होते है पहला भाग data का होता है और दूसरा pointer होता है। linked list का pointer भाग अगले node के address को hold किये रहता है। nodes का प्रयोग डेटा को संग्रहित करने के लिए किया जाता है। linked list एक ऐसा डेटा स्ट्रक्चर होता है जिसकी length को run-time में बढ़ाया या घटाया जा सकता है। अर्थात यह dynamic होता है। linked list का प्रयोग tree तथा graph को बनाने के लिए किया जाता है।

Types of linked list in hindi in hindi:- Linked list निम्नलिखित तीन प्रकार के होते है:-

  1. Single Linked List:- इसमें one-way direction होता है तथा single linked list के प्रत्येक node में दो fields होते है:-
    1. पहला वह field होता है जहां डेटा स्टोर रहता है।
    2. दूसरा pointer या लिंक होता है।

2. Doubly Linked List:- इसमें two-way direction होता है। doubly linked list के प्रत्येक node में तीन भाग होते है:-
1. पहले भाग में डेटा स्टोर रहता है।
2. दूसरा भाग अगले नोड के लिए link होता है।
3. तीसरा भाग पिछले के लिए लिंक होता है।

3. Circular Linked list:- Circular linked list में प्रत्येक नोड circle के रूप में जुड़े रहते है। circular Linked list के अंत में NULL वैल्यू नही होती है। इसमें अंतिम नोड, पहले नोड के address को contain किये हुए रहता है अर्थात पहला और अंतिम नोड adjacent होते है।

Circular linked list के दो प्रकार होते है:-
1. Single circular linked list
2. Doubly circular linked list.


Leave a Reply