अंतरराष्ट्रीय योग दिवस : 21 जून

योग के प्रति लोगों को जागरुक करने के मकसद से पूरी दुनिया में विश्व योग दिवस हर साल 21 जून को मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र महासभा की ओर से मान्यता दिए जाने के बाद पहली बार साल 2015 में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत हुई थी।
भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में इस दिन को सेलिब्रेट करने की पहल की थी, जिसके बाद 21 जून को ”अंतरराष्ट्रीय योग दिवस” (International Yoga Day 2021) घोषित किया गया। 21 जून को संयुक्त राष्ट्र में 177 सदस्यों द्वारा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाने का प्रस्ताव रखा गया था, जिसे 90 दिनों के अंदर पूर्ण बहुमत से पारित किया गया, जो संयुक्त राष्ट्र संघ में किसी दिवस प्रस्ताव के लिए सबसे कम समय है। इस साल यानी 21 जून 2021 को योग दिवस की थीम ‘योगा फॉर वेलबिइंग’ है यानी ‘स्वास्थ्य के लिए योग’। पिछले साल 2020 में कोरोना वायरस की वजह से लोगों को घर में रहने की हिदायत दी गई थी इसलिए योग दिवस की थीम थी ‘घर में रहकर योग करें’।

कुरान का सबसे पहले गोजरी भाषा में अनुवाद करने वाले मुफ्ती फैज-उल-वहीद का निधन

जम्मू के प्रसिद्ध इस्लामिक विद्वान मुफ्ती फैज-उल-वहीद, जिन्होंने पहली बार कुरान का गोजरी भाषा में अनुवाद किया, का जम्मू में निधन हो गया। उन्होंने ने ‘सिराज-उम-मुनीरा’, ‘अहकाम-ए-मय्यत’ और ‘नमाज का मसाइल कुरान-ओ-हदीस की रोशनी में’ सहित कई पुस्तिकाएं भी लिखी थीं।
गुर्जरी – जिसे गुजारीं, गुजरी, गोजारी या गोजरी के नाम से भी जाना जाता है – गुर्जरों और भारत, पाकिस्तान और अफगानिस्तान की अन्य जनजातियों द्वारा बोली जाने वाली इंडो-आर्यन की एक किस्म है। भाषा मुख्य रूप से जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, उत्तराखंड, राजस्थान, गुजरात, पंजाब, दिल्ली और भारत के अन्य हिस्सों में बोली जाती है।

सड़क दुर्घटना में होने वाली मौतों में 50% की कमी करेगी सरकार

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के अनुसार, केंद्र सरकार ने वर्ष 2024 तक सड़क दुर्घटना में होने वाली मौतों को 50% तक कम करने का लक्ष्य रखा है। विश्व बैंक और एडीबी ने पहले ही एक योजना को मंजूरी दे दी है जिसके तहत सरकार राज्यों, NHAI और अन्य हितधारकों के लिए दुर्घटनाओं की चपेट में आने वाले ब्लैक स्पॉट को हटाने के लिए 14,000 करोड़ रुपये आवंटित कर रही है।
मौतों को कम करने के लिए 4-E फॉर्मूला
सड़क और परिवहन मंत्रालय सड़क सुरक्षा के चार ‘E’ के पुनर्गठन और सुदृढ़ीकरण द्वारा सड़क दुर्घटना में होने वाली मौतों को कम करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है। 4E में शामिल हैं- Engineering (सड़क और ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग), Economy, Enforcement और Education।

ONE LINER QUESTION ANSWER

जापान सरकार विदेश यात्रा के लिए करेगी वैक्सीन पासपोर्ट जारी

जापानी यात्रियों के लिए अगले महीने से वैक्सीन पासपोर्ट उपलब्ध कराएगी।यह निर्णय दुनिया भर की सरकारों द्वारा व्यावसायिक यात्राओं और पर्यटन को फिर से शुरू करने के तरीकों के साथ प्रयोग के तौर पर शुरू किया गया है। सरकार के शीर्ष प्रवक्ता, कात्सुनोबु काटो ने यह बताया कि, सरकार उन लोगों के लिए टीकाकरण का प्रमाणपत्र जारी करने की तैयारी कर रही है, जिन्हें विदेशों में जाने पर इसकी आवश्यकता होती है।

बोत्सवाना में मिला दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा हीरा

देबस्वाना डायमंड कंपनी ने 01 जून, 2021 को दक्षिण अफ्रीका के बोत्सवाना की जवानेंग खदान में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा हीरा पाया है। बोत्सवाना अफ्रीका में हीरों का सबसे बड़ा उत्पादक देश है। 1,098 कैरेट वजन के इस पत्थर का पता लगाने के दो हफ्ते बाद, इसे राष्ट्रपति मोकग्वेत्सी मासीसी को भेंट किया गया। दुनिया के दूसरे सबसे बड़े 1,109 कैरेट लेसेडी ला रोना हीरे से थोड़ा कम है जो वर्ष, 2015 में बोत्सवाना में ही पाया गया था और दुनिया का सबसे बड़ा 3,106 कैरेट का कलिनन हीरा वर्ष, 1905 में दक्षिण अफ्रीका में पाया गया था। इस 73 मिमी लंबे, 52 मिमी चौड़े और 27 मिमी मोटे पत्थर का नाम अभी नहीं रखा गया है। दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा 1,109 कैरेट का लेसेडी ला रोना हीरा 53 मिलियन डॉलर में बिका था।
दुनिया का यह तीसरा सबसे बड़ा पत्थर, दुनिया दूसरे सबसे बड़े 1,109 कैरेट लेसेडी ला रोना हीरे से थोड़ा छोटा है जो वर्ष, 2015 में बोत्सवाना में ही पाया गया था और दुनिया का सबसे बड़ा 3,106 कैरेट का कलिनन हीरा वर्ष, 1905 में दक्षिण अफ्रीका में पाया गया था।

राजस्थान की कला एवं संस्कृति

आयरलैंड के केविन ओ ब्रायन ने वनडे से संन्यास की घोषणा की

आयरलैंड के हरफनमौला खिलाड़ी केविन ओ’ब्रायन ने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों से संन्यास की घोषणा की है। 37 वर्षीय डबलिनर, जो टेस्ट और T20 क्रिकेट के लिए उपलब्ध है, ने 50 ओवर के प्रारूप में 153 कैप जीते, 3,000 से अधिक रन बनाए और अपनी जीवंत मध्यम गति के साथ प्रारूप में 114 विकेट लिए।

विश्व शरणार्थी दिवस : 20 जून

शरणार्थियों को सम्मानित करने के लिए, 20 जून को विश्व शरणार्थी दिवस मनाया जा जाता है। पहली बार विश्व शरणार्थी दिवस 20 जून, 2001 को मनाया गया था। तमाम दुर्दशा के बावजूद, दुनिया भर में शरणार्थियों द्वारा दिखाए गए साहस और लचीलेपन को आज मनाया जा रहा है ताकि उन्हें और मजबूत किया जा सके और उन्हें यह एहसास दिलाया जा सके कि वे न केवल जीवित रहेंगे, बल्कि अपने अधिकारों और सपनों को प्राप्त करने की दिशा में भी कामयाब होंगे। संघर्षों और आतंक के अलावा, आज दुनिया में कई शरणार्थी ऐसे भी हैं जिन्हें प्राकृतिक आपदाओं जैसे सुनामी, भूकंप, बाढ़ आदि के कारण अपना घर छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा।
2019 संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) के अनुसार, दुनिया में 68% शरणार्थी सीरिया (6.6 मिलियन शरणार्थी), वेनेजुएला (3.7 मिलियन शरणार्थी), अफगानिस्तान (2.7 मिलियन), दक्षिण सूडान (2.2 मिलियन) और म्यांमार (1.1 मिलियन) देशों से हैं। 2019 तक दुनिया भर में कुल 79.5 मिलियन शरणार्थियों में से 26 मिलियन 18 वर्ष से कम आयु के हैं।

SUBJECT QUIZ

फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का निधन

भारत के महान धावक मिल्खा सिंह का 18 जून 2021 को निधन हो गया। वे 91 साल के थे. वे पिछले दिनों कोरोना संक्रमित हो गए थे। 1958 के टोक्यो एशियाई खेलों में मिल्खा सिंह ने 200 मीटर और 400 मीटर की दौड़ में गोल्ड मेडल हासिल किया था। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हालांकि 1960 के रोम ओलंपिक में था जिसमें वह 400 मीटर फाइनल में चौथे स्थान पर रहे थे। उन्होंने 1956 और 1964 ओलंपिक में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया। उन्हें 1959 में पद्मश्री से नवाजा गया था। रोम ओलंपिक में मिल्खा सिंह ने 400 मीटर की दौड़ 45.73 सेकेंड में पूरी की थी, वे जर्मनी के एथलीट कार्ल कूफमैन से सेकेंड के सौवें हिस्से से पिछड़ गए थे लेकिन यह टाइमिंग अगले 40 सालों तक नेशनल रिकॉर्ड रहा।

वैक्सीन अंतर्राष्ट्रीयवाद के लिए शिखर सम्मेलन आयोजित किया

प्रोग्रेसिव इंटरनेशनल द्वारा वैक्सीन अंतर्राष्ट्रीयवाद के लिए चार दिवसीय शिखर सम्मेलन 18 जून, 2021 को शुरू हुआ। यह शिखर सम्मेलन “कोविड -19 महामारी को जल्द से जल्द समाप्त करने और सभी के लिए कोविड​​​​-19 टीकों को सुरक्षित करने” के लक्ष्य के साथ शुरू किया गया था। यह वैक्सीन शिखर सम्मेलन लगभग 20 देशों के राजनीतिक नेताओं, वैश्विक दक्षिण सरकारों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और वैक्सीन निर्माताओं को एक साथ लाता है। हाल ही में, संयुक्त राष्ट्र के सहायता प्रमुख मार्क लोकॉक ने G-7 योजना की गंभीर नहीं होने और आवश्यक तात्कालिकता की कमी के रूप में आलोचना की थी।

NOTES

राष्ट्रीय पठन दिवस : 19 जून

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड हर साल 19 जून को राष्ट्रीय पठन दिवस मनाता है। यह दिवस ‘केरल में पुस्तकालय आंदोलन’ के जनक स्वर्गीय पी.एन. पनिकर के सम्मान में मनाया जाता है, जिनकी पुण्यतिथि 19 जून को पड़ती है। 2021 में 26वां राष्ट्रीय पठन दिवस मनाया जा रहा है। 19 जून के बाद के सप्ताह को पठन सप्ताह के रूप में और 18 जुलाई तक के पूरे महीने को पठन माह के रूप में मनाया जाएगा। पहला पठन दिवस समारोह 1996 में आयोजित किया गया था। 19 जून, 2017 को, प्रधान मंत्री ने 22वें राष्ट्रीय पठन माह समारोह का शुभारंभ किया और 2022 तक देश के सभी नागरिकों के बीच ‘पढ़ो और बढ़ो’ के संदेश को फैलाने के लिए एकता का आह्वान किया।