श्रम विभाग एवं रोजगार विभाग का प्रभार को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को सौंपा

दिल्ली सरकार के मंत्रिमंडल में मामूली फेरबदल करते हुए श्रम विभाग एवं रोजगार विभाग का प्रभार को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को सौंपा गया। दिल्ली सरकार द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया, ‘‘दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (कार्यों का आवंटन) नियम-1993 के नियम-3 में प्रदान की गई शक्ति का इस्तेमाल करते हुए उपराज्यपाल ने मुख्यमंत्री से परामर्श कर श्रम एवं रोजगार मामलों का प्रभार उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को प्रदान किया है।

START-Daily Quiz

इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए श्रमिकों को दिल्ली भवन और अन्य विनिर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड में पंजीकरण कराना होता है। वर्तमान में इसमें 52,000 सदस्य हैं। साथ ही, 66,000 श्रमिकों का पंजीकरण हुआ है, लेकिन उनका सत्यापन लंबित है।इससे पहले दिल्ली सरकार ने निर्माण श्रमिकों के पंजीकरण के लिए 23 अगस्त को अभियान चलाया था। इस दौरान दिल्ली के सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में पंजीकरण शिविर लगाए गए थे।

पद्मश्री समेत कई पुरस्कारों से सम्मानित, कुचिपुड़ी की प्रसिद्ध नृत्यांगना शोभा नायडू का निधन

पद्मश्री समेत कई पुरस्कारों से सम्मानित, कुचिपुड़ी की प्रसिद्ध नृत्यांगना शोभा नायडू का निधन हो गया। नायडू की उम्र 60 के करीब थी और उनका एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। नायडू की प्रमुख उपलब्धियों में विप्रनारायण, कल्याण श्रीनिवासम और अन्य बैले (नृत्य-नटिकाओं) की कोरियोग्राफी और उनमें नृत्य तथा अभिनय करना था

START-Daily Quiz

इनमें नायडू ने सत्यभामा, देवदेवकी, पद्मावती, मोहिनी, साईबाबा और देवी पार्चती की मुख्य भूमिकाएं निभायी हैं। उनकी प्रस्तुतियों की सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में प्रशंसा हुई हैं उन्होंने अमेरिका और ब्रिटेन सहित कई देशों में अपनी प्रस्तुति दी है। उन्होंने अपने जीवनकाल में भारत और विदेशों के तमाम छात्रों को प्रशिक्षण भी दिया है। उन्हें पद्मश्री के अलावा आंध्रप्रदेश सरकार और विभिन्न प्रतिष्ठित संगठनों ने भी सम्मानित किया है। सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव ने नायडू के निधन पर शोक जताते हुए उन्हें कुचिपुड़ी की प्रसिद्ध नृत्यांगना के रूप में याद किया जिनकी सत्यभामा और पद्मावती की भूमिकाओं को हमेशा याद किया जाएगा।

15 अक्टूबर : विश्व-हस्त-प्रक्षालन-दिवस

विश्व भर में लाखों लोगों को साबुन से नियमित हाथ धोने हेतु प्रेरित एवं लामबन्द करने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 15 अक्टूबर को विश्व-हस्त-प्रक्षालन-दिवस मनाया जाता है। 15 अक्टूबर, 2014 को सुलभ-प्राँगण में खुशनुमा माहौल के बीच कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआ।

START-Daily Quiz

‘शौच के बाद एवं भोजन से पूर्व साबुन से हाथ धोने से शिशु-मृत्यु-दर के आँकड़ों में 50 प्रतिशत तक कमी आएगी और बच्चों में अतिसार-जैसी बीमारियाँ भी नियन्त्रित होंगी।’

वेदांता समूह की कंपनी हिंदुस्तान जिंक लि. ने गुजरात सरकार के साथ समझौता किया

वेदांता समूह की कंपनी हिंदुस्तान जिंक लि. (एचजेडएल) ने कहा कि उसने जिंक स्मेल्टर संयंत्र लगाने को लेकर गुजरात सरकार के साथ समझौता किया है। परियोजना में 10,000 करोड़ रुपये तक निवेश अनुमानित है। एचजेडएल ने एक बयान में कहा कि यह कारखाना 415 एकड़ में फैला होगा और चरणबद्ध तरीके से 5,000 से 10,000 करोड़ रुपये का निवेश होगा।

START-Daily Quiz

इससे प्रत्यक्ष अैर परोक्ष रूप से 5,000 नौकरियां सृजित होंगी। यह कारखाना 2022 तक परिचालन में आएगा। ‘‘एचजेडएल ने गुजरात सरकार के साथ 300 किलो टन सालाना क्षमता का जिंक स्मेल्टर संयंत्र लगाने को लेकर गुजरात सरकार के साथ सहमति पत्र पर दस्तखत किये। यह परियोजना तापी जिले के दोसवाडा जीआईडीसी (गुजरात औद्योगिक विकास निगम) में लगेगी।

इंडियन कॉस्ट्यूम डिजाइनर भानु अथैया का निधन

इंडियन कॉस्ट्यूम डिजाइनर भानु अथैया का निधन हो गया। भानु अथैया ने भारत के लिए पहला अकादमी और ऑस्कर अवॉर्ड जीता था। 91 साल की उम्र में भानु ने मुंबई स्थित अपने घर में आखिरी सांस ली।

START-Daily Quiz

भानु को साल 1982 में आई फिल्म गांधी के लिए ऑस्कर अवॉर्ड से नवाजा गया था। भानु का जन्म कोल्हापुर में हुआ था और उन्होंने साल 1956 में लेजेंडरी डायरेक्टर गुरुदत्त की सुपरहिट फिल्म सीआईडी से अपने कॉस्ट्यूम डिजाइनर करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने बॉलीवुड के कई बेहतरीन निर्देशकों के साथ काम किया है।

वर्चुली आयोजित अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन की तीसरी बैठक

वर्चुली आयोजित अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (International Solar Alliance) की तीसरी बैठक में भारत और फ्रांस को अगले दो साल के कार्यकाल के लिए फिर से अध्यक्ष और सह-अध्यक्ष चुना गया है।

START-Daily Quiz

बैठक में कुल 53 सदस्य देशों और 5 हस्ताक्षरकर्ता और भावी सदस्य देशों ने हिस्सा लिया। एशिया-प्रशांत के लिए फिजी और नाउरू के प्रतिनिधि, अफ्रीका के लिए मॉरीशस और नाइजर, यूरोप के लिए ब्रिटेन और नीदरलैंड तथा लैटिन अमेरिका और कैरिबियन के लिए क्यूबा और गुयाना उपाध्यक्ष चुने गए हैं।

भारत ने फलस्तीनी शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र राहत और कार्य एजेंसी को 10 लाख डॉलर का योगदान किया

भारत ने फलस्तीनी शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र राहत और कार्य एजेंसी को 10 लाख डॉलर का योगदान किया है। इस राशि से शिक्षा, स्वास्थ्य, राहत और सामाजिक कार्यों सहित एजेंसी के कई कार्यक्रमों और सेवाओं को जारी रखने में मदद मिलेगी।

START-Daily Quiz

भारत, फलस्ती नी शरणार्थियों को महत्वहपूर्ण सेवाएं और आवश्यऔक मानवीय सहायता देने में संयुक्तल राष्ट्रा राहत और कार्य एजेंसी की गतिविधियों का समर्थन करता रहेगा।

भारत को विश्व के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट की सूची में 58वां स्थान

आर्टन कैपिटल के पासपोर्ट इंडेक्स 2020 के अनुसार, भारत को विश्व के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट की सूची में 58वां स्थान दिया गया है।

START-Daily Quiz

न्यूजीलैंड सबसे ऊपर है दूसरे स्थान पर जापान, जर्मनी, ऑस्ट्रिया, लक्जमबर्ग, स्विट्जरलैंड, आयरलैंड, दक्षिण कोरिया और ऑस्ट्रेलिया है।

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान जॉन रीड का निधन

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान जॉन रीड का बुधवार को निधन हो गया है। 92 साल की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली। जॉन रीड लम्बे समय से कॉलन कैंसर से जूझ रहे थे। 1928 में ऑकलैंड में जन्मे रीड ने 16 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में 58 टेस्ट मैचे खेले, जिसमें उन्होंने 3428 रन बनाए। इसके अलावा 85 विकेट अपने नाम किए।

START-Daily Quiz

उन्होंने 58 मैचों से 34 में कप्तानी भी की। रीड ने 1965 में क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। इसके बाद वो टीम के राष्ट्रीय चयनकर्ता और मैनेजर बने। इसके बाद फिर वो आईसीसी के मैच रेफरी बने। रीड ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 246 मुकाबले खेले और 16 हजार से ज्यादा रन बनाने के अलावा 466 विकेट भी हासिल किए।

केरल सरकार ने किसानों के उन्नयन के लिए किसान कल्याण कोष बोर्ड स्थापित करने का फैसला किया

देश में पहली बार केरल सरकार ने किसानों के उन्नयन के लिए किसान कल्याण कोष बोर्ड स्थापित करने का फैसला किया है। राज्य मंत्रिमंडल की हुई बैठक में बोर्ड स्थापित करने का फैसला किया गया जिसका नाम ‘केरल कृषक क्षमानिधि बोर्ड ’ होगा।

START-Daily Quiz

केरल कृषक क्षमानिधि अधिनियम के तहत बागवानी, औषधि गुणों वाले पौधों की खेती, नर्सरी प्रबंधन, मत्स्यपालन, मधुमक्खी पालन, बकरी और खरगोश पालन, कृषि के इस्तेमाल वाली भूमि प्रबंधन से जुड़े मामलों को यह बोर्ड देखेगा। बोर्ड का सदस्य बनने के लिए 100 रुपये का शुल्क देकर पंजीकरण कराना होगा और सदस्यता शुल्क 100 रुपये मासिक होगी। विज्ञप्ति के मुताबिक, ‘‘किसान मासिक शुल्क एक साथ छह महीने या सालभर के लिए भर सकते हैं। सरकार इसके बराबर की हिस्सेदारी 250 रुपये तक कल्याण कोष में सदस्यों को देगी।’

Leave a Reply