IDFC फर्स्ट बैंक ने ग्राहक COVID राहत घर-घर राशन कार्यक्रम शुरू किया

IDFC फर्स्ट बैंक ने अपने कम आय वाले ग्राहकों, जिनकी आजीविका COVID-19 से प्रभावित है, उनके लिए एक कर्मचारी-वित्त पोषित कार्यक्रम ‘घर घर राशन’ कार्यक्रम शुरू करने की घोषणा की है। बैंक ने उन कर्मचारियों के परिवारों के लिए एक व्यापक कार्यक्रम की भी घोषणा की है, जिन्होंने दुर्भाग्य से COVID-19 के कारण अपनी जान गंवा दी, और कई अन्य सामाजिक जिम्मेदारी पहल की।
“घर घर राशन” एक अनूठा कार्यक्रम है जहां कर्मचारियों ने अपनी व्यक्तिगत आय से योगदान दिया है ताकि 50,000 COVID प्रभावित कम आय वाले IDFC फर्स्ट बैंक ग्राहकों को राहत प्रदान करने के लिए एक ग्राहक COVID देखभाल कोष स्थापित किया जा सके।

आईसीसी हॉल ऑफ फेम में शामिल हुए 10 क्रिकेटर

इन दस क्रिकेटरों ने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में अभूतपूर्व योगदान दिया है। इन दस खिलाड़ियों के शामिल होने के साथ ही इस प्रतिष्ठित सूची में शामिल होने वाले क्रिकेटरों की संख्या 103 हो जाएगी। भारत के लेफ्ट आर्म स्पिनर वीनू मांकड़ को इसमें जगह दी गई है। इसमें पांच युगों के 10 खिलाड़ियों को शामिल किया गया है।
आईसीसी हॉल ऑफ फेम में 5 अलग-अलग समय के दिग्गज खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। इसमें प्रारंभिक युग (1918 से पहले) के लिए दक्षिण अफ्रीका के ऑब्रे फॉल्कनर और ऑस्ट्रेलिया के मोंटी नोबल को शामिल किया गया। वीनू माकंड हॉल ऑफ फेम में शामिल होने वाले 7वें भारतीय खिलाड़ी बन गये हैं।

NOTES

केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने रक्षा क्षेत्र में इनोवेशन हेतु 499 करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी दी

यह योजना सैन्य उपकरणों और हथियारों के आयात में कमी लाने और भारत को रक्षा विनिर्माण का केंद्र बनाने की सरकार की कोशिश का हिस्सा है। रक्षा मंत्रालय ने 13 जून 2021 को कहा कि रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता के लक्ष्य को हासिल करने के उद्देश्य से लगभग 300 स्टार्टअप, लघु, छोटे और मध्यम उद्योगों (एमएसएमई) और व्यक्तिगत अन्वेषकों को वित्तीय मदद मुहैया कराने के लिए इस निधि का इस्तेमाल किया जाएगा।
रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अगले पांच साल के लिए 498.8 करोड़ रुपये के बजट सहयोग वाली इस योजना का उद्देश्य डीआईओ रूपरेखा के तहत लगभग 300 स्टार्टअप/एमएसएमई/व्यक्तिगत अन्वेषकों और 20 साझेदार संगठनों को वित्तीय मदद मुहैया कराना है।

हार्ड-राइट टेक करोड़पति नफ्ताली बेनेट बने इज़राइल के नए प्रधानमंत्री

नफ्ताली बेनेट ने नेतन्याहू के साथ वर्ष, 2006 और वर्ष, 2008 के बीच एक वरिष्ठ सहयोगी के तौर पर काम किया था। हालांकि, उनके साथ संबंधों में खटास आने के बाद, उन्होंने नेतन्याहू की लिकुड पार्टी छोड़ दी थी। उन्होंने खुद को दक्षिणपंथी राष्ट्रीय-धार्मिक यहूदी होम पार्टी के साथ जोड़ लिया था और वर्ष, 2013 में इसके प्रतिनिधि के तौर पर संसद में प्रवेश किया था।
नफ़्ताली बेनेट खुले तौर पर धार्मिक जीवन शैली का नेतृत्व करने वाले इज़राइल के पहले प्रधानमंत्री होंगे और धार्मिक यहूदी पुरुषों द्वारा पहनी जाने वाली छोटी टोपी ‘किप्पा’ का समर्थन करने वाले पहले व्यक्ति होंगे। नफ्ताली बेनेट को यहूदी राष्ट्र-राज्य के लिए एक मजबूत अधिवक्ता होने के साथ-साथ वेस्ट बैंक, गोलन हाइट्स और पूर्वी यरुशलम में यहूदी धार्मिक और ऐतिहासिक दावों पर जोर देने के लिए जाना जाता है।

SUBJECT QUIZ

नोवाक जोकोविच ने रचा इतिहास, जीता 19वां ग्रैंडस्लैम खिताब

पेरिस में खेले गए इस फाइनल में उन्होंने सितसिपास को 6-7, 2-6, 6-3, 6-2, 6-4 से हरा दिया। इसके साथ ही जोकोविच ने अपने करियर का 19वां ग्रैंडस्लैम खिताब अपने नाम किया। इस जीत के साथ ही टेनिस इतिहास में 2 बार 4 ग्रैंड स्लैम जीतने वाले जोकोविक तीसरे खिलाड़ी बने। उनसे पहले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व टेनिस खिलाड़ी रॉय एमर्सन और ऑस्ट्रेलिया के ही पूर्व खिलाड़ी रॉड लेवर ने यह कारनामा किया था।
नोवाक जोकोविच ने इससे पहले साल 2016 में ब्रिटेन के एंडी मरे को हराकर फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था। जोकोविच के करियर का यह दूसरा फ्रेंच ओपन खिताब है। जोकोविच स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर और स्पेन के राफेल नडाल के रिकॉर्ड 20 ग्रैंड स्लैम से अब महज एक कदम दूर रह गए हैं।

इजराइल होगा दुनिया का पहला मास्क मुक्त देश

कोरोना काल में इजरायल दुनिया का पहला मास्क मुक्त देश बन जाएगा। यहां 15 जून से बंद जगहों पर मास्क लगाने का नियम खत्म हो जाएगा। इस बात का ऐलान इजरायल के स्वास्थ्य मंत्री यूली एडेलस्टीन (Yuli Edelstein) ने किया। देश में बाहर मास्क लगाने का नियम पहले ही खत्म कर दिया गया है।
हालांकि, विदेश यात्रा से जुड़े ज्यादातर प्रतिबंध अभी नहीं हटाए गए हैं। उदाहरण के लिए, नौ देशों की यात्रा पर अभी भी प्रतिबंध है। इन देशों से आने वाले यात्रियों के लिए क्वारंटाइन का नियम है। उनका कोरोना टेस्ट भी किया जा रहा है।

कोर्सेरा की ग्लोबल स्किल्स रिपोर्ट 2021 में भारत 67वें स्थान पर है

कोर्सेरा द्वारा जारी ‘ग्लोबल स्किल्स रिपोर्ट 2021’ के अनुसार, भारत को वैश्विक स्तर पर 67वां स्थान मिला है। भारत प्रत्येक डोमेन में मध्य रैंकिंग के साथ, 38 प्रतिशत दक्षता के साथ वैश्विक स्तर पर 67 वें स्थान पर है, व्यापार में 55 वें तथा प्रौद्योगिकी और डेटा विज्ञान दोनों में 66 वें स्थान पर है। भारतीय शिक्षार्थियों के पास क्लाउड कंप्यूटिंग (83%) और मशीन लर्निंग (52%) और गणितीय कौशल में 54% जैसे डिजिटल कौशल में उच्च दक्षता है। डिजिटल कौशल में सुधार की आवश्यकता है क्योंकि डेटा विश्लेषण और सांख्यिकीय प्रोग्रामिंग में, केवल 25% और 15% कौशल दक्षता पर रैंक किया गया है। लेकिन, भारतीय डेटा कौशल में पीछे हैं और उस पर ध्यान देने की जरूरत है।
1 रैंक : स्विट्ज़रलैंड
2 रैंक : लक्समबर्ग
3 रैंक : ऑस्ट्रिया

ONE LINER QUESTION ANSWER

‘होम इन द वर्ल्ड’ पुस्तक: अमर्त्य सेन का संस्मरण

हमारे समय के दुनिया के अग्रणी सार्वजनिक बुद्धिजीवियों में से एक, नोबेल पुरस्कार विजेता अमर्त्य सेन ने अपना संस्मरण ‘होम इन द वर्ल्ड’ लिखा है। किताब का प्रकाशन जुलाई में पेंगुइन रैंडम हाउस द्वारा किया जाएगा। इस पुस्तक में, सेन बताते हैं कि कैसे रवींद्रनाथ टैगोर ने उन्हें अपना नाम अमर्त्य दिया था। वह कलकत्ता के प्रसिद्ध कॉफी हाउस और कैम्ब्रिज में बातचीत और मार्क्स, कीन्स और एरो के विचारों को भी याद किया हैं, जिन्होंने उनके विचारों को आकार दिया।

Leave a Reply