राजस्थान ने वन नेशन वन कार्ड सिस्टम लागू किया

राजस्थान वन नेशन, वन राशन कार्ड प्रणाली को सफलतापूर्वक पूरा करने वाला देश का 12वां राज्य बन गया है। वन नेशन-वन राशनकार्ड सिस्टम से सही व्यक्ति को अपने कोटे का अनाज मिलेगा। इससे योग्य लाभार्थियों की पहचान करने के साथ नकली, डुप्लीकेट या अयोग्य कार्डधारकों की भी पहचान होगी।

काेक, पेप्सी और पतंजलि पर करोड़ों रुपए का जुर्माना

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बाेर्ड ने बेवरेज कंपनी काेक, पेप्सी, बाॅटल्ड पानी उपलब्ध कराने वाली कंपनी बिसलरी और पतंजलि पर प्रदूषण फैलाने के लिए करोड़ों रु. का जुर्माना लगाया है। इन कंपनियों ने प्लास्टिक कचरा संग्रहण व निपटारे के संबंध में सरकार काे जरूरी ब्याेरा नहीं दिया था। हिंदुस्तान काेका काेला बेवरेजेस काे 50.66 कराेड़ रु., बिसलरी को 10.75 कराेड़ रु., पेप्सी काे 8.7 कराेड़ रु., पतंजलि को 1 करोड़ व नोरिश्को बेवरेजेस को 85.9 लाख रु. जुर्माना देना होगा। उन्हें 15 दिन का समय दिया है। कंपनियों काे अपने ऐसे उत्पादाें के निपटारे की जिम्मेदारी लेनी हाेती है, जाे इस्तेमाल के बाद उपभाेक्ता के काम के नहीं रहते। काेक ने सीपीसीबी काे बताया है उसने जनवरी से सितंबर 2020 में 1,05,744 टन के लक्ष्य के मुकाबले 4417 टन प्लास्टिक कचरा एकत्र किया। बिसलरी काे 21,500 टन, पेप्सी काे 11,194 टन कचरे का दाेषी पाया गया। इन पर 5 हजार रु. प्रति टन के हिसाब से जुर्माना लगा है। काेक व पेप्सीको ने कहा है कि वे सीपीसीबी के नाेटिस का अध्ययन कर रही हैं।

अब आयुष औषधियों से होने वाले साइड इफेक्ट की मॉनिटरिंग होगी

प्रदेश के आयुष औषधालयों में आने वाले मरीजों को दी जाने वाले दवाओं से होने वाले साइड इफैक्ट के बारें में जोधपुर के डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन आयुर्वेद विश्वविद्यालय व उदयपुर के मदन मोहन मालवीय सरकारी आयुर्वेदिक कॉलेज में ‘फार्माकोविजिलेंस सेंटर’ बनेगा, जहां पर औषधियों से होने वाले साइड इफैक्ट का डाटा बेस तैयार किया जाएगा। रसायनशालाओं में औषधियों की गुणवत्ता की जांच के लिए जयपुर, जोधपुर और उदयपुर में क्वालिटी कंट्रोल यूनिट की स्थापना के साथ ही अजमेर की ड्रग टेस्टिंग लैब को आधुनिक बनाया जाना प्रस्तावित है।
आयुष नीति-2020 में ये है खास
प्रदेश में संचालित आयुष चिकित्सा यूनिटों को अच्छी औषधियां उपलब्ध कराने के लिए रसायनशालाओं को मिलाकर आयुष औषधि उत्पादन वितरण एवं विपणन निगम बनेगा, जिससे मशीन, दवा और उपकरणों की खरीद होगी।
जोधपुर के आयुर्वेद विश्वविद्यालय में औषधी पादप कल्टीवेशन में डिप्लोमा कोर्स प्रारंभ किया जाएगा।

संयुक्त अरब अमीरात ने अंतरिक्ष यान ‘होप’ को मंगल ग्रह की कक्षा में सफलतापूर्वक पहुंचाया

संयुक्त अरब अमीरात ने हाल ही में अपने अंतरिक्ष यान ‘होप’ को मंगल ग्रह की कक्षा में सफलतापूर्वक पहुंचा दिया है। यूएई का होप यान लगभग 120,000 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चक्कर लगा रहा है। यह सफलता प्राप्त करने वाला वह दुनिया का पांचवां देश बन गया है।

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल में 34 महिला कर्मियों की टुकड़ी शामिल किया गया

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल में 34 महिला कर्मियों की पहली टुकड़ी कमांडो यूनिट ‘कोबरा’ में शामिल किया गया है। सीआरपीएफ के कोबरा कमांडो दस्ते को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बलों में शामिल किया गया है। इन महिला कमांडो का चयन छह बटालियनों में से किया गया है।

कैप्टन हरि सिंह थापा का निधन

कैप्टन हरि सिंह थापा जिनका हाल ही में निधन हो गया, भारत के प्रतिष्ठित मुक्केबाज थे। उन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर 1950 से 1957 1 तक बॉक्सिंग मिडिल वेट में सात । वर्ष तक लगातार स्वर्ण पदक 1 जीता। कैप्टन थापा को उत्तराखंड से सरकार ने 2013 में द्रोणाचार्य ह अवॉर्ड दिया था।

इनोवेटिव आइडियाज ऑन ग्रीन इलेक्ट्रॉनिक्स फॉर ए सस्टेनेबल फ्यूचर

केंद्र सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा लोगों से ‘ग्रीन प्रोडक्ट्स फॉर सस्टेनेबल फ्यूचर’ थीम पर राइट अप के रूप में इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट का निस्तारण, इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट की लाइफ साइकिल और डिजाइन के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इसका उद्देश्य भविष्य के लिए ऐसी इलेक्ट्रानिक डिवाइस का निर्माण करना है जिसमें कम से कम इलेक्ट्रॉनिक कचरा निकले, हानिकारक न हो और पर्यावरण को नुकसान न पहुंचे।
योग्यता : एंट्री पीडीएफ फॉर्मेट में होनी चाहिए। टेक्स्ट कैम्ब्रिया, टाइम्स न्यू रोमन अथवा यूनिकोड हिंदी में 12 फॉन्ट साइज में होना चाहिए। इसके अलावा लाइन्स के बीच स्पेश 1.15 होना चाहिए। पेपर मार्जिन 1 इंच, पेज के चारो तरफ मान्य होगा।

जयपुर, जोधपुर व उदयपुर ही पूरी करते हैं रिसर्च संस्थानों की योग्यता

नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क की ओर से इस साल से शुरू की गई रिसर्च इंस्टीट्यूशन कैटेगिरी में प्रदेश की कई यूनिवर्सिटीज इसकी एलिजिबिलिटी ही पूरी नहीं करती। इस कैटेगिरी में अप्लाय करने के लिए तीन साल में 500 रिसर्च पेपर बड़े स्तर पर प्रकाशित होने चाहिए या फिर कम से कम संस्थान में एक हजार रिसर्च स्कॉलर्स होने चाहिए। पहला क्राइटेरिया काफी मुश्किल है। ऐसे में संस्थानों के पास अवसर है कि वे दूसरी कैटेगिरी में अप्लाय करें, लेकिन यहां पर भी मात्र दो संस्थान ही कैटेगिरी की पात्रता रखते हैं। राजस्थान विश्वविद्यालय में करीब तीन हजार रिसर्च स्कॉलर्स हैं। उदयपुर की सुखाड़िया यूनिवर्सिटी में 1460 और जोधपुर में 1050 रिसर्च स्कॉलर्स हैं। वहीं कोटा यूनिवर्सिटी, राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी, वर्धमान महावीर ओपन यूनिवर्सिटी, कृषि विश्वविद्यालय कोटा, महाराजा गंगासिंह यूनिवर्सिटी बीकानेर, एमडीएस यूनिवर्सिटी अजमेर और शेखावाटी यूनिवर्सिटी सीकर इस पात्रता से काफी दूर हैं। इससे यह साफ होता है कि प्रदेश की यूनिवर्सिटीज में रिसर्च पर बहुत ध्यान नहीं दिया जा रहा है। वहीं गाइड नहीं होने के कारण रिसर्च स्कॉलर्स की सीटें भी नहीं बढ़ाई जा रही हैं।
एनआईआरएफ की ओवरऑल रैंकिंग में भी प्रदेश के विश्वविद्यालयों का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। इसका एक बड़ा कारण इसमें राज्य सरकार का बहुत अधिक हस्तक्षेप नहीं होना है। पिछले साल राजभवन ने यूनिवर्सिटी ऑफ द ईयर का खिताब दिए जाने का एलान किया था। इससे सभी यूनिवर्सिटीज के बीच प्रतिस्पर्धा बढ़ती, लेकिन कोरोनाकाल की वजह से इसे लागू नहीं किया गया। संभवतः जल्द ही राजभवन इस दिशा में भी काम शुरू करेगा।

टेस्ट रैकिंगः जो रूट तीसरे पर आए

टेस्ट बल्लेबाजी रैंकिंग में इंग्लैंड के कप्तान जो रूट तीसरे पर आ गए हैं। यह रूट की सितंबर 2017 के बाद बेस्ट रैंकिंग है। पुजारा एक स्थान फिसलकर 7वें पर पहुंच गए। एंडरसन तीसरे नंबर पर आ गए हैं। वहीं, अश्विन-बुमराह की रैंकिंग एक-एक स्थान सुधरी है।
रैकिंग में टॉप-5 बल्लेबाज
रैंक खिलाड़ी देश रेटिंग
1 विलियम्सन न्यूजीलैंड 919
2 स्मिथ ऑस्ट्रेलिया 891
3 जो रूट इंग्लैंड 883
4 लबुशेन ऑस्ट्रेलिया 878
5 कोहली भारत 852
रैकिंग में टॉप-5 गेंदबाज
रैंक खिलाड़ी देश रेटिंग
1 कमिंस ऑस्ट्रेलिया 908
2 ब्रॉड इंग्लैंड 830
3 एंडरसन इंग्लैंड 826
4 वेगनर न्यूजीलैंड 825
5 हेजलवुड ऑस्ट्रेलिया 816

START DAILY QUIZ