कल्कि कोचलिन ने लिखी अपनी पहली पुस्तक ‘एलीफैंट इन द वोम्ब’

बॉलीवुड अभिनेत्री कल्कि कोचलिन अपनी पहली पुस्तक “एलीफेंट इन द वोम्ब” के साथ एक लेखक के रूप में शुरुआत कर रही हैं। यह पुस्तक, जिसे अभी जारी किया जाना है, मातृत्व पर एक सचित्र नॉन-फिक्शन पुस्तक है। यह वलेरिया पॉलीनेचको द्वारा सचित्र है और पेंगुइन रैंडम हाउस इंडिया(PRHI) द्वारा प्रकाशित किया गया है। यह पुस्तक गर्भावस्था और माता, गर्भवती माताओं और “मातृत्व के बारे में सोचने वाली किसी भी महिला” के लिए पालन-पोषण के बारे में बताती है।

MP ने कोरोना से अनाथ हुए बच्चों के भरण-पोषण के लिए शुरू की स्पॉन्सरशिप योजना

मध्यप्रदेश में कोरोना से अनाथ हुए बच्चों की देखभाल और भरण-पोषण सरकार करेगी। इसके लिए महिला-बाल विकास विभाग ने स्पॉन्सरशिप योजना शुरू की है। शासन ऐसे बच्चे, जिनके माता-पिता का निधन कोरोना के कारण हो गया है अथवा जिनके माता-पिता इस बीमारी की वजह से अस्पताल में भर्ती हैं, उनके भरण-पोषण की जिम्मेदारी लेने का निर्णय लिया गया है।

08 May 2021 Current Affair

विश्व थैलेसीमिया दिवस : 08 मई

8 मई को विश्व स्तर पर World Thalassaemia Day यानि विश्व थैलेसीमिया दिवस मनाया जाता है। यह दिन थैलेसीमिया रोग की रोकथाम करने के उपायों, ट्रांसमिशन से बचने और बच्चों के स्वास्थ्य के लिए जरुरी टीकाकरण के महत्व के बारे में समाज और दुनिया भर के लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है।विश्व थैलेसीमिया दिवस 2021 का विषय “Addressing Health Inequalities Across the Global Thalassaemia Community”है. थैलेसीमिया विरासत में मिला रक्त एक विकार है जिसकी विशेषता कम हीमोग्लोबिन और सामान्य रक्त कोशिकाओं की तुलना में कम है। थैलेसीमिया से पीड़ित व्यक्ति में बीमारी के वाहक के रूप में माता-पिता में से कम से कम एक होता है।

कनाडा ने 12 साल तक के बच्चों के टीकाकरण के लिए फाइजर-बायोटेक की कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दी

5 मई, 2021 को कनाडा ने 12 साल तक के बच्चों के टीकाकरण के लिए फाइजर-बायोटेक की कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। कनाडा ऐसा करने वाला पहला देश बन गया है। अधिकतर देशों में अभी व्यस्कों को ही कोरोना का टीका लगाया जा रहा है तो कुछ देशों में टीकाकरण की न्यूनतम उम्र 16 वर्ष तक है। इससे कम उम्र के बच्चों को कोरोना का टीका कहीं नहीं लगाया जा रहा है।

कोरोना से ठीक हो रहे मरीजों को हो रही एक और जानलेवा म्युकोरमाइकोसिस बीमारी

कोरोना से ठीक हो रहे मरीज अब एक नई जानलेवा बीमारी म्युकोरमाइकोसिस (Mucormycosis) का शिकार हो रहे हैं। ये बीमारी सीधा लोगों की आँख पर असर करती है। म्युकोरमाइकोसिस नाम की इस बीमारी से मरीजों में मौत की संभावना 50% है। पिछले दो दिनों में दिल्ली के सर गंगा राम अस्पताल में COVID-19 के कारण होने वाले एक फंगल संक्रमण के कारण इस श्लेष्मा रोग के छह मामले सामने आए थे तथा दिल्ली के अलावा पुणे और अहमदाबाद के अस्पतालों में इस घातक फंगल संक्रमण देखे गए है। देश में इस बीमारी के प्रथम लक्षण दिसम्बर, 2020 में दिल्ली में देखे गए।

07 May 2021 Current Affair

हिमाचल प्रदेश पर्वत धारा योजना के तहत जल स्त्रोतों के जीर्णोद्धार के लिए 2.76 करोड़ करेगा व्यय

हिमाचल प्रदेश में पर्वत धारा योजना आरंभ हो गई है। इसके माध्यम से जलस्रोतों का संवर्धन हो सकेगा। इससे भूजल स्तर में वृद्धि होगी। योजना को 10 वन मंडलों में पायलट आधार पर आरंभ किया गया है। इनमें दो करोड़ 76 लाख रुपये खर्च होंगे। इसके तहत 110 छोटे-बड़े तालाब, 600 विभिन्न प्रकार के चेक डैम व चेक वॉल, 12 हजार कन्टूर ट्रैच का निर्माण होगा। इसके अलावा पौधारोपण भी होगा। इस योजना को प्रदेश में लाहुल-स्पीति एवं किन्नौर को छोड़कर शेष जिलों में क्रियान्वित किया जा रहा है। इसमें जल शक्ति विभाग नोडल विभाग के तौर पर कार्य करेगा। हिमाचल प्रदेश में दो-तिहाई भूभाग में वन हैं। करीब 27 प्रतिशत भूभाग हरित आवरण से ढका है, इसलिए पर्वत धारा योजना के क्रियान्वयन में वन विभाग की भी महत्वपूर्ण भूमिका है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका की तरफ से रखा गया वैक्सीन पेटेंट में छूट के प्रस्ताव का अमेरिका ने समर्थन किया

कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में गरीब देशों के लिए कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी उम्मीद जगी है। अमेरिकी प्रशासन ने 5 मई, 2021 को कोरोना वैक्सीन पर पेटेंट सुरक्षा को अस्थायी रूप से हटाने जाने के प्रस्ताव का समर्थन किया है। भारत और दक्षिण अफ्रीका की तरफ से विश्व व्यापार संगठन में इस आशय का प्रस्ताव रखा गया था। प्रस्ताव में कहा गया था कि वैक्सीन की सप्लाई को बढ़ावा देने के लिए उसके पेटेंट को अस्थायी रूप से हटाया जाना चाहिए। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रशासन ने कहा है कि वह कोविड-19 टीके पर पेटेंट सुरक्षा हटाने की वैश्विक मांग का समर्थन करता है।

Online Examination Form

7 मई को सीमा सड़क संगठन ने मनाया अपना 61वाँ स्थापना दिवस

सीमा सड़क संगठन की स्थापना 7 मई, 1960 को हुई थी। यह रक्षा मंत्रालय के तहत एक प्रमुख सड़क निर्माण संस्था के रूप में कार्य करता है। यह संगठन सीमा क्षेत्रों में सड़क कनेक्टिविटी प्रदान करने में अग्रणी भूमिका निभा रहा है। यह पूर्वी और पश्चिमी सीमा क्षेत्रों में सड़क निर्माण और इसके रखरखाव का कार्य करता है ताकि सेना की रणनीतिक ज़रूरतें पूरी हो सकें। संगठन पर 53 हजार किलोमीटर सड़कों की ज़िम्मेदारी है। सीमा सड़क संगठन ने भूटान, म्याँमार, अफगानिस्तान आदि मित्र देशों में भी सड़कों का निर्माण किया है।

राफेल नडाल ने जीता लॉरियस वर्ल्ड स्पोर्ट अवॉर्ड-2021 का स्पोर्टमैन ऑफ दी ईयर अवॉर्ड

6 मई, 2021 को लॉरियस वर्ल्ड स्पोर्ट अवॉर्ड 2021 प्रदान किए गए। इस बार इसकी मेजबानी सेविले (स्पेन) द्वारा की गई। 13 अप्रैल, 2021 को इन पुरस्कारों के लिए खिलाड़ीयों व टीमों के नाम नामित हुए थे। वर्ष 2000 में इन पुरस्कारों की शुरुआत हुई थी। यह पुरस्कार वर्ष की सबसे बड़ी और सबसे प्रेरणादायक खेल जीत का सम्मान करता है और लॉरियस स्पोर्ट फॉर गुड के काम को प्रदर्शित करता है। यह पुरस्कार छह श्रेणियों (स्पोर्ट्सवुमन, स्पोर्ट्समैन, टीम, ब्रेकथू, कमबैक और एक्शन) में दिए जाते है। इस बार इन छह श्रेणियों के विजेता शॉर्टलिस्ट 70 से अधिक देशों के 1 हजार से अधिक स्पोर्ट्स मीडिया के वोट से बने हैं।

एन. रंगास्वामी पुडुचेरी के चौथी बार मुख्यमंत्री बने

7 मई, 2021 को ऑल इंडिया एन. आर. काँग्रेस (AINRC) नेता एन. रंगास्वामी ने राज निवास में हुए एक संक्षिप्त समारोह में पुडुचेरी के मुख्यमंत्री की शपथ ली। वह चौथी बार मुख्यमंत्री बने है। उपराज्यपाल तमिलिसाई सौंदराराजन ने एन. रंगास्वामी को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। उन्होंने ईश्वर को साक्षी मानकर तमिल भाषा में पद की शपथ ली। वह राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार की अगुवाई करेंगे, जिसमें ऑल इंडिया एन. आर. काँग्रेस (AINRC) और भारतीय जनता पार्टी शामिल हैं।

SUBJECT QUIZ

ONE LINER QUESTION ANSWER