भारत के बाद पाक में सबसे ज्यादा देखा गया दूरदर्शन

प्रसार भारती के डिजिटल चैनलों ने 2020 में 100% से ज्यादा वृद्धि दर्ज की। खास बात ये है कि दूरदर्शन-रेडियो के लिए भारत के बाद पाकिस्तान दूसरा और अमेरिका तीसरा सबसे बड़ा डिजिटल दर्शक वर्ग रहा।

‘कोविशील्ड व कोवैक्सीन’ के आपात इस्तेमाल को मंजूरी

कोवैक्सीन : तीसरे चरण में 22 हजार लोगों को टीका दिया गया है, नतीजे आने अभी बाकी हैं
आईसीएमआर महानिदेशक प्रो. बलराम भार्गव ने बताया, ‘यह टीका पूरी तरह सुरक्षित है। वायरस में अब तक जितने बदलाव हुए हैं यह सब पर काम करेगा। कितना प्रभावी है, यह अभी स्पष्ट नहीं। जानवरों पर हुए अध्ययन में यह पूरा प्रभावी रहा। पहले और दूसरे फेज में 800 लोगों को टीका दिया गया, उनमें से किसी को भी कोरोना नहीं हुआ। तीसरे फेज में जिन 22 हजार लोगों को टीका दिया गया, उनमें अब तक साइड इफेक्ट नहीं दिखा है। आखिरी नतीजे आने बाकी हैं।’
कोविशील्डः हाफ डोज 90% तक कारगर, दो फुल डोज 62% कारगर; औसत 70 फीसदी
सीरम इंस्टीटयूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया, ‘अभी हम टीका सिर्फ सरकार को देंगे। जब हमारे पास स्थायी लाइसेंस होगा, तब हम निर्यात भी कर सकते हैं, इसमें कोई परेशानी नहीं।’ ट्रायल में कोविशील्ड का
वॉलेंटियर्स को पहले हाफ फिर फुल डोज दिया गया। हाफ डोज 90% असरदार रहा। एक माह बाद फुल डोज दिया गया। जब दोनों फुल डोज दिए गए तो असर 62% रह गया। दोनों ही तरह के डोज में औसत प्रभावशीलता 70% रहेगी।

ई-खादी इंडिया पोर्टल से घर बैठे खरीद सकेंगे खादी

अब लोग घर बैठे ही खादी के उत्पाद खरीद सकेंगे। ये सुविधा देने के लिए खादी-ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) की ई-कॉमर्स साइट ‘eKhadiIndia.com’ लॉन्च हो गई है। इस पर खादी और ग्रामोद्योग से जुड़े 500 प्रकार के 50,000 से अधिक उत्पाद हैं।

वैज्ञानिकों ने बनाया मिट्टी में पाए जाने वाले बैक्टीरिया से 100% प्राकृतिक हेयर कलर

उम्र से पहले बाल सफेद होना एक आम समस्या है। जब इन्हें डाई किया जाता है तो केमिकल के कारण बालों का गिरना, झड़ना और बाकी बालों का भी समय से पहले सफेद होना शुरू हो जाता है। ऐसे में इस समस्या से परेशान लोगों ने लिए पंजाब यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने 100 फीसदी प्राकृतिक हेयर कलर तैयार किया है। खास बात यह है कि इसे मिट्टी में पाए जाने वाले एक बैक्टीरिया से तैयार किया गया है, इसका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं दिखा है। यूनिवर्सिटी के डिपार्टमेंट ऑफ माइक्रोबायोलॉजी के वैज्ञानिकों ने बैक्टीरिया को आइसोलेट करके कलर तैयार किया है । लगभग सात साल से इसपर काम चल रहा था और अब पीयू ने पेटेंट फाइल किया है। ‘केमिकल फ्री यूजर फ्रेंडली हेयर डाइंग फार्मूलेशन’ के इनवेंटर हैं प्रो नवीन गुप्ता।
रिसर्चर ने इससे पहले किया पानी पर बड़ा काम
नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क की रैकिंग में आईआईटी के बाद टॉप यूनिवर्सिटी में पंजाब यूनिवर्सिटी का स्थान रहता है। इस तरह की रैकिंग में सबसे ज्यादा अंक शोध के ही मिलते हैं। एक अन्य प्राइवेट वर्ल्ड एजुकेशन रैंकिंग 2021 के मुताबिक पंजाब यूनिवर्सिटी देश में चौथे नंबर पर है। रिसर्चर डॉ नवीन गुप्ता सुखना लेक में नदीन और टर्शरी वाटर के इस्तेमाल के बाद पानी में आनी वाली बदबू समेत चंडीगढ़ की कई समस्याओं का हल निकाल चुके हैं।

इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज

जयपुर के हंस कुमार शर्मा ने कम उम्र में कई विषयों में डिग्रियां हासिल करके हंस ने इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराया है। इस रिकॉर्ड के प्रतिनिधि सर्वोच्च न्यायालय के अधिवक्ता डॉ. जीवी प्रसाद ने बताया, इससे पूर्व भी अध्ययन के क्षेत्र में रिकॉर्ड दर्ज हो चुके हैं, लेकिन बेहद कम उम्र में नौ उपाधियां हासिल कर हंस कुमार ने यह रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कराया है।

स्कूटी योजना में शामिल होंगी सीबीएसई की गर्ल्स, 25 % छात्रों को मिलेगा फायदा

कालीबाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना में 10,050 स्कूटियों का वितरण होगा। इसमें पहली बार सीबीएसई की छात्राओं को भी जोड़ा गया है। पहले इसमें केवल राजस्थान बोर्ड से पास छात्राओं को ही शामिल किया जाता था। अब इसमें सीबीएसई की छात्राओं की हिस्सेदारी 25 फीसदी की रहेगी। कॉलेज आयुक्तालय ने स्कूटी योजना की गाइडलाइन जारी की है। इसमें स्कूटियों की 5 योजनाओं को शामिल किया गया है। पहले ये सभी योजनाएं अलग-अलग विभागों में संचालित होती थीं। अब इन सभी योजनाओं को मिलाकर इसका नाम कालीबाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना कर दिया गया है। लगातार सीबीएसई की छात्राओं को इन योजनाओं में शामिल करने की मांग की जा रही थी। इसी के चलते इन छात्राओं को इस योजना में शामिल किया गया है।

सऊदी अरब ने फिर बदला कानून, अब अभिभावक की स्वीकृति के बिना भी नाम बदल सकती हैं महिलाएं

महिलाओं के लिए बेहद सख्त कानूनों वाला इस्लामी देश सऊदी अरब में तेजी से स्थिति में बदलाव आ रहा है। हालिया बदलाव के तहत महिलाओं को यह अधिकार दिया गया है कि वे अपने अभिभावक की स्वीकृति के बिना भी नाम में बदलाव कर सकती हैं। पहले इसके लिए घरवालों की इजाजत जरूरी थी।
सऊदी अरब के वर्कफोर्स में बढ़ी है महिलाओं की हिस्सेदारी
पिछले कुछ सालों से किए जा रहे प्रयासों के नतीजे भी सामने आने लगे हैं। 2015 में सऊदी अरब के स्थानीय निवासियों के वर्क फोर्स में महिलाओं की हिस्सेदारी सिर्फ 13 फीसदी थी। 2019 में यह बढ़कर 34.4 फीसदी हो गई।

ब्रिटेनः मासिक धर्म उत्पादों पर लगने वाला ‘टैम्पोन टैक्स’ खत्म

ब्रिटेन ने मासिक धर्म उत्पादों पर लगने वाला ‘टैम्पोन टैक्स’ जनवरी 2021 से समाप्त कर दिया है। इस कदम से महिलाओं को मासिक धर्म संबंधित उत्पाद आसानी से प्राप्त हो पाएंगे और उनकी समस्याएं कम होंगी। इस स्थिति को पीरियड पॉवर्टी को कम या समाप्त करना कहा जाता है। अब तक ब्रिटेन में ऐसे उत्पादों पर 5 फीसदी वैट लगाया जाता था, जिसे टैम्पोन टैक्स का नाम दिया गया था। ब्रिटेन सरकार ने एक बयान में कहा कि संक्रमण काल के समाप्त होने तक यह कदम उठाया जा रहा है। टैम्पोन टैक्स को समाप्त करने और सैनिटरी उत्पादों को सस्ता करने और सभी महिलाओं के लिए उपलब्ध कराने की सरकार की व्यापक रणनीति और प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

केंद्र सरकार बीईएमएल में 26 % हिस्सेदारी बेचेगी

केंद्र सरकार बेंगलुरू स्थित सार्वजिक उपक्रम भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (बीईएमएल) में प्रबंधन नियंत्रण के साथ अपनी 26% हिस्सेदारी बेचेगी। इसके लिए लोक परिसंपत्ति एवं प्रबंधन विभाग (दीपम) ने कम से कम 1,400 करोड़ रुपए की नेटवर्थ वाली कंपनियों से 1 मार्च तक रुचि पत्र (ईओआई) मंगाए हैं। बीईएमएल में सरकार की 54.03% हिस्सेदारी है। दीपम की ओर से जारी प्रिलिमनरी इन्फॉर्मेशन मेमोरेंडम (पीआईएम) के मुताबिक इस विनिवेश के लिए दो चरण की प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया अपनाई जाएगी। कंपनियां, लिमिटेड लाइबिलिटी पार्टनरशिप (एलएलपी) और भारत में निवेश के पात्र फंड बोली प्रक्रिया में भाग ले सकेंगे।

असम : भारत-बांग्लादेश को जोड़ने वाली 200 मीटर लंबी सुरंग मिली

असम के करीमगंज में भारत और बांग्लादेश को जोड़ने वाली 200 मीटर लंबी सुरंग का पता चला है। इस सुरंग का पता पुलिस के रेस्क्यू अभियान के दौरान चला है। पुलिस का मानना है कि इस सुरंग का इस्तेमाल तस्करी या अपहरण के लिए किया जाता है। पुलिस ने 28 दिसंबर को अपहृत दिलवर हुसैन को बचाते हुए सुरंग का पता लगाया। अपहरणकर्ताओं के चंगुल से लौटने के बाद दिलवार ने सुरंग के बारे में पुलिस को बताया था।

START DAILY QUIZ